Insurance क्या है और यह कितने प्रकार के होते है?

दोस्तों हमारी वेबसाइट में आपका स्वागत है ,दोस्तों आपने टीवी ,newspaper में जरूर बिमा का ad जरूर देखा होगा ,और ज्यादातर लोग तो बिमा को LIC के नाम से भी बुलाते है ,जो की गलत है LIC एक कंपनी है जो बिमा करती है ,यह कोई बिमा की प्रकार नहीं है ,दोस्तों हमारे लिए बिमा करवाना बेहद जुरूरी है ,क्यूंकि यह मुश्किल वक़्त में हमारे परिवार वालो के काम आता है ,तो दोस्तों आज हम जानेंगे की इन्शुरन्स जिसे हम हिंदी बिमा कहते है आखिर वो क्या होता है ,वो कैसे हमारे बुरे वक़्त में मदद करता है ,हमे इन्शुरन्स क्यों करवाना चाहिए आइये विस्तार में जानते है ,

Insurance क्या होता है ?

दोस्तों Insurance एक ऐसा Aggrement होता है ,जिसका क्लेम  लेने से आपके बुरे वक़्त में पैसों की समस्या कुछ हद तक हल हो जाती है ,जब आपकोउसकी  सबसे ज्यादा जरुरत होती है ,इसको पाने के लिए आपको अपना बिमा करवाना होता है ,जिसके कुछ प्रीमियम होता है जो आप अपनी सहूलियत के हिसाब से रख सकते है ,जिसे आप हर महीने या तीन महीने की दर से भर सकते है ,बिमा लेने की कोई लिमिट नहीं है ,आप जितनी चाहो उतनी पालिसी खरीद सकते हो ,

बिमा किसी का भी हो सकता ,आपका ,आपके माँ बाप  का आपके बिज़नेस ,आपकी गाडी और भी बहुत चीज़ों का हो सकता है ,अगर खुदा न खास्ता कुछ हो जाए तो आपकी फ़माइली को यह कवर प्रदान करता है ,जिससे आपकी फॅमिली की  जरुरत कुछ हद तक पूरी हो जाती है ,इसी तरह आप अपनी गाडी का भी इन्शुरन्स कर सकते है ,जिससे गाडी का एक्सीडेंट होने पर आपको गाडी का क्लेम मिल सके

Insurance कितने प्रकार के होते है?

बिमा के कई प्रकार होते है ,जिसमे कुछ बिमा आपकी जिंदगी से जुड़ा होता है ,जैसे की जीवन बिमा या हेल्थ बिमा और कुछ दूसरी वस्तुओ से भी जुड़ा होता है जिस प्रकार हमने ऊपर बताया कार बिमा ,मोटर बिमा ,दूकान का बिमा इत्यादि ,

दोस्तों ऐसे कई प्रकार के बिमा होते है जो आपके साथ साथ आपकी फॅमिली के काम भी आते है ,कभी भी बिमा करवाते वक़्त अपनी पालिसी के बारे में सभी जानकारी प्राप्त करले ताकि बाद में आपको कोई दिक्कत न आये ,और अलग अलग कंपनियों की पॉलिसीस को compare भी करे और देखे कोनसी पालिसी आपके लिए बेहतर है ,जाँच प्रखर उसे चुने ,तो आइये जानते है कौन कौन से बिमा होते है ,

ट्रेवल बिमा

जी हाँ ट्रेवल बिमा आजकल ट्रेवल करने वालो में यह बिमा काफी लोकप्रय हो रहा है ,जिसमे आपको आपकी गाडी ,एयरप्लेन ,आपके सामन पे आपको बिमा मिलता है जिससे कोई प्राकर्तिक आपदा में आपको यह बिमा काम आ सकता है जिसमे आपको इसके कवर के मुताबिक़ आपका क्लेम मिल जायगा,अगर आप ट्रैवेलिंग बहुत ज्यादा करते है तो आपके लिए ट्रेवल बिमा एक बेहतर विक्लप है ,इससे आपको एक प्रकार की सुरक्षा प्रदान होती है ,क्यूंकि जब आप किसी दूसरे देश ट्रेवल करते है तो सामान चोरी होने का खतरा बना रहता है

गाडी बिमा

जब भी आप कोई गाडी खरीदते है तो उसका बिमा करवाना अनिवार्य होता है ,आप कार ,बाइक ,बस ,ऑटो इत्यादि का बिमा करवा सकते है वाहन चोरी या एक्सीडेंट होने पर आप कमपनी से क्लेम ले सकते है ,धयान रहे वक़्त के साथ आपके इन्शुरन्स के क्लेम की वैल्यू कम होते जाएगी,गाडी का बिमा करवाना आपके लिए फायदा का ही सौदा है जिसमे आप वक़्त आने पर क्लेम लेकर उसकी भरपाई कर सकते है ,और गाडी का बिमा करवाना भी अनिवार्य है ,ऐसा न होने पर आपको जुर्माना भरना पड़ सकता है

हेल्थ इन्शुरन्स

आजकल मिलावट भरे खाने को खा कर लोग अक्सर बीमार होज्या करते है और उन्हें बड़ी बड़ी बीमारिया लग जाती है ,जिसमे उनके काफी ज्यादा पैसा लग जाते है ऐसे में मेडिकल इन्शुरन्स ले से से आप यह बोझ काफी हद तक काम कर सकते हो ,वह भी साल का कुछ प्रीमियम जमा करके ,जिसमे आप खुद और आपकी फॅमिली का कवर ले सकते हो ,

दवाई ,ऑपरेशन इन सबका खर्चा आपके इन्शुरन्स कंपनी वाले उठाते है ,बस कोई भी पालिसी लेने से पहले उसकी टर्म्स एंड कंडीशंस जररु पढ़ले ,ताकि आपको क्लेम लेते वक़्त कोई दिक्कत न हो

जीवन बिमा

जीवन बिमा लोगो में काफी लोकप्रिय है ,आज आप महीने के 50 हज़ार कमा रहे है ,कल अगर आपकी फ़माइली को कुछ हो जाये तो क्या आपकी फॅमिली के पास पर्याप्त धन होगा ,

इशलिये जीवन बिमा करवाया जाता है जिसमे आपके ना रहने के बाद भी आपकी फॅमिली को कुछ पैसा दिया जाता है ,जिससे की उनकी जिंदगी आसान हो सके ,बेहद कम प्रीमियम पैर आप अपना और अपनी फॅमिली का बिमा करवा सकते ,बिमा करवाने के लिए आप ऑनलाइन कोई अच्छी बिमा कंपनी देख सकते है |

Conclusion

दोस्तों आप भी कोई भी ले लेकिन उसके टर्म्स एंड कंडीशन को ध्यान पूर्वक पढ़े क्यूंकि अक्सर बिमा कंपनी पैसे देने में दिक्कत करती है और यूजर को क्लेम लेने में दिकत्तों का सामना करना पड़ता है ,इसलिए आप जब भी कोई भी इन्शुरन्स पालिसी ले तो एक अपना नॉमिनी जरूर डाले और दूसरा टर्म्स एंड कंडीशन ध्यनपूर्वक पढ़े

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *